कैसे हो कोरोना पर काबू? मरकज की वजह से दिल्ली पर मंडरा रहा बड़ा ख़तरा

By: Munmun Prasad Srivastava

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को डिजिटल प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि 5 अप्रैल तक दिल्ली में 503 केस थे और पिछले 24 घंटे में 523 केस हो गए हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटें में  20 नए कोरोना के केस सामने आए हैं। इन 20 में से 10 केस मरकज के हैं और बाकी अन्य केस हैं। कुल 523 केस में से मकरज के 330 केस हैं। विदेशों से कोरोना लेकर आने वालों की संख्या 61 है। अब तक दिल्ली में 7 लोगों की मौत हो चुकी है। पिछले 24 घंटे में दिल्ली में एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है। 25 लोग आइसीयू में हैं और 8 लोग वेंटिलेटर पर है। शेष लोगों की स्थिति अभी स्थिर है। पिछले कुछ दिनों में ऐसा लगा कि दिल्ली में केस बड़ी तेजी से केस बढ़े हैं। मैं पिछले दिनों कहा था कि मकरज के केस काफी तेजी से बढ़े हैं। 523 में से 330 केस सिर्फ मरकज के हैं।मुख्यमंत्री ने बताया कि सरकार ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच कराना चाहते हैं, ताकि कोरोना के मरीजों को चिंहित कर इलाज करवा सके।मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि अब हमें टेस्टिंग किट मिल रही हैं। हमने जांच अब काफी बढ़ा दी है। हम चाहते हैं कि जो भी टेस्ट कराना चाहता है, उसकी जांच हो। ताकि कोरोना के मरीजों को चिंहित किया जा सके और उनका इलाज किया जा सके। उनकी जांच कर उन्हें क्वारेंटाइन या आइसोलेट किया जा सके, ताकि वे आगे यह बीमारी न फैलायें। जितनी ज्यादा हम जांच करेंगे, उतनी तेजी से ही हम कोरोना को रोकने में कामयाब होंगे। दूसरे देशों में भी यही तकनीक अपनाई जा रही है। साउथ कोरिया अभी तक सबसे ज्यादा सफल माना जाता है। वहां पर भी यही तकनीक अपना कर ज्यादा से ज्यादा जांच की गई थी। हम अब दिल्ली के अंदर भी यही करने वाले हैं। केजरीवाल ने कहा कि अगर हम अपने आंकड़े को देखें तो 25 अप्रैल के आसपास हम प्रतिदिन 100 से 125 लोगों की जांच कर रहे थे। उसके बाद एक अप्रैल के बाद से हम 500 के करीब प्रतिदिन जांच कर रहे हैं और अब हम 500 से 1 हजार लोगों की जांच प्रतिदिन कर सकेंगे और इसे आने वाले समय में बढ़ाते जाएंगे। दिल्ली सरकार ने 1 लाख टेस्टिंग किट के आॅर्डर दे दिए हैं। शुक्रवार तक एक लाख टेस्टिंग किट आ जाएंगी और हम बहुत बड़े स्तर पर जांच करने में समक्ष हो जाएंगे।

39 thoughts on “कैसे हो कोरोना पर काबू? मरकज की वजह से दिल्ली पर मंडरा रहा बड़ा ख़तरा

Leave a Reply Cancel reply

Your email address will not be published.