प्रदूषण व् कोरोना रूपी रावण के पुतले का सांकेतिक दहन 

मुनमुन प्रसाद श्रीवास्तव

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री श्री मनीष सिसोदिया ने प्रदूषण और कोरोना रूपी रावण को हराने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा है कि दशहरा सिर्फ प्रतीकात्मक नहीं बल्कि आज की बुराइयों के खिलाफ लड़ाई का महापर्व है। इसलिए हमें आज की बुराई प्रदूषण और कोरोना को हराने का संकल्प लेना होगा।

श्री सिसोदिया ने यह बात आज अपने आवास पर सांकेतिक रावण दहन के दौरान कही। लाल किला में हर वर्ष रावण दहन करने वाली मशहूर ‘लवकुश रामलीला कमिटी’ ने इस वर्ष कोरोना और प्रदूषण के कारण यह सांकेतिक आयोजन किया। इस दौरान प्रदूषण और कोरोना रूपी रावण के लगभग 12 फीट के पुतले पर श्री सिसोदिया ने तीर चलाया। इसमें एक भी पटाखे का उपयोग नहीं किया गया और इसे जलाया भी नहीं गया।
इस मौके पर ‘लवकुश रामलीला कमिटी’, लालकिला के महामंत्री अर्जुन कुमार, लीला मंत्री अंकुश अग्रवाल तथा सीटीआई के चेयरमैन बृजेश गोयल भी मौजूद थे।

इस दौरान श्री सिसोदिया ने कहा कि विजयादशमी पर हम बुराइयों को हराकर अच्छाई की विजय चाहते हैं। आज हमें संकल्प लेना चाहिए कि महामारी और बुरी सोच की हार हो, सबके स्वास्थ्य और अच्छे कर्म की जीत हो, सत्य की जीत हो और असत्य की हार हो।

श्री सिसोदिया ने ‘लवकुश रामलीला कमिटी’ को प्रदूषण मुक्त रावण दहन के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि हमें इस बार पटाखा मुक्त और प्रदूषण मुक्त हरित दिवाली का भी संकल्प लेना होगा। श्री सिसोदिया ने कहा कि दैनिक जीवन में हम बाइक, कार तथा अन्य माध्यमों से प्रदूषण करते हैं, लेकिन अब संकल्प लेना होगा कि हम कम-से-कम प्रदूषण फैलाएं।