Wednesday, February 21, 2024
bharat247 विज्ञापन
Homeदिल्ली-एनसीआरजब दिल्ली में ही मिले शांति और सुकून तो पहाड़ों में क्यों...

जब दिल्ली में ही मिले शांति और सुकून तो पहाड़ों में क्यों जाना?

- विज्ञापन -

हर कोई चाहता है कि वो शहर की भीड़ और शोर से दूर एक शांत पर कुछ दिन रहे। इसके लिए ही बहुत सारे लोग पहाड़ों का रूख करते हैं लेकिन जब वही सुकून आपको दिल्ली में ही मिले तो पहाड़ क्यों जाना? यहां शुरूआत में सीढ़ियों पर खूबसूरत फूल और करीने से लगी लैंप आपका मन मोह लेगी। इनको पार करने के बाद मैंने जैसे ही दिल्ली के रोजेटी में पहला कदम रखा। मैंने जो देखा वो मेरे लिए नया नहीं लेकिन दिल्ली में ऐसा होना आश्चर्य से भर देन वाला था। मैंने पाया कि होटल के अंदर खूबसूरती के लिए बेहतरीन नक्काशी को उकेरा गया है। यहां बड़े-बड़े खंभे बनाए गए हैं जो जालीदार छत तक जाते हैं। जहां से थोड़ी-थोड़ी धूप अंदर आती है।

इस जगह को इस तरह से बनाया गया कि हर जगह आपको सुकून का एहसास हो। वैसा ही एहसास और खुशी जब हमें उगते हुए सूरज को देखकर होती है। ये जगह पूरी तरह से तरोताजा कर रही थी और ये सब रिसेप्शन में देखकर महसूस कर रही थी। मुझे नहीं पता था, मैं यहां क्यों हूं लेकिन जैसे ही मैं अपने कमरे की तरफ निकली। मुझे ये पता चल गया था कि ये मेरी फेवरेट जगह होने वाली है। दिल्ली की इस जगह पर अपने पार्टनर के साथ एक बार जरूर जाना चाहिए। क्या पता मेरी तरह ये आपकी भी फेवरेट जगह हो जाए।

जब मैंने इसके बारे में सुना तो विश्वास नहीं हो रहा था कि दिल्ली के बिजी एनएच-8 से कुछ मिनटों दूर ही वो जगह है, जहां हमें स्वर्ग मिलेगा। आठ एकड़ में फैला इस पैराडाइज में खूबसूरती और सुकून दोनों हैं। यहां बहुत सारे वाॅटर शेड्स हैं, हरे-भरे पेड़ हैं और पैदल चलने के लिए खूबसूरत मैदान।

छोटे ब्रिज, सैकड़ों पेड़ और कुछ घुमावदार सीढ़ियों को पार करने के बाद मैं एक कोरीडोर में पहुंची। जो मेरे कमरे तक जाता था। चारों तरफ यहां एक खूशबू फैली हुई थी जो मुझे इस जगह से प्यार करने को मजबूर कर रही थी।

रूम

यदि आप पहली बार रोजेटी आएंगे तो ये आपको आश्चर्य से भर देगा। इस होटल को देखकर आप लक्जरी को दोबारा परिभाषित करना चाहेंगे। यहां पर कुछ ऐसा है जिस पर विश्वास करने के लिए आप इसे जरूर देखें। हम उनकी सबसे अच्छी जगहों में से एक मे गए। जिसे वे रोजेटी पूल-व्यू कहते हैं। ये आपके लिए सबसे रोमांटिक अनुभव हो सकता है।

एक वाइन के साथ हाॅट टब में नहाने की एक तस्वीर या पूल के एक प्राइवेट डेक पर अच्छा टाइम बिताना। हरे घास के मैदान के बीच छिपी ये जगह आपके सबसे यादगार पल बन सकते हैं।

किसे पता था कि सभी सुविधाओं वाले इन कमरों में प्राकृतिक माहौल भी मिलेगा? यहां पूरे कमरे का कंट्रोल एक आइपैड से होता है। रोजेटी, हमें हर अगले पल में आश्चर्यचकित कर रहा था। इससे हमें और अब भी ज्यादा प्यार हो रहा था।

जैसे ही हमने रात को अपने डेक की ओर गए। हमारा स्वागत चांद के नीचे बज रहे संगीत, डांस और वाइन से हुआ लेकिन क्या हमारे पास म्यूजिक था? अंदाजा लगाओ कि वो क्या था? हमारे कमरे में किसी भी प्रकार का म्यूजिक नहीं चल रहा था फिर भी मुझे सुबह के तीन बजे जैज का म्यूजिक सुनाई दे रहा था। बाद में मुझे एहसास हुआ कि वहां जाते ही वो संगीत मेरे मन में चल रहा था। वो एक अलग ही एहसास था, जिसके बारे में सोचकर बार-बार मुस्कुराया जा सकता है।

पूल

यहां एक पूल भी है जिसके साफ पानी में कूदना कोई मुश्किल काम नहीं। पहाड़ की चोटी से ये ताजे पानी की झील की तरह दिखाई देता है।

पूल चारों तरफ से हरी पत्तियों की बड़ी-बड़ी दीवारों से ढंका हुआ है। रोजेटी में स्विमिंग वैसी नहीं है, जैसी आपको हर जगह मिलता है। यहां का अनुभव कुछ अलग और यादगार होगा क्योंकि यहां पर भीड़ नहीं है। यहां तक आप सीधे अपने अपने रूम से बाहर डेक से पहुंच सकते हैं। ये जगह आपको दोपहर में सूरज की कमी आती किरणों में डुबकी लगाने का आनंद देती है।

बाहर निकलो और अपनी जगह तलाशें

यहां की सबसे अच्छी बात ये है कि जितना सुंदर होटल के अंदर है उतनी ही खूबसूरती बाहर भी आपका इंतजार कर रही होती है। यहां आपको हिन्दू दर्शन के पांच तत्व- वायु, जल, अग्नि, पृथ्वी और आकाश के दीदार हो जाएंगे। यहां आप अपने आपको हरी-भरी प्रकृति, पाॅल्यूशन रहित और 102 मीटर लंबे पानी के फुव्वारे के बीच खोते हुए पाएंगे। आपको अपने रास्ते में कैंडल जलती हुई मिलेंगी। शाम का ये नजारा और इस रास्ता पर चलना अच्छा लगेगा। पेड़ों के नीचे कुछेक जगहों पर बेड रखे हुए हैं जो आपके बैठने के इंतजार में है। ये कोना किसी और से बात करने की नही, बल्कि खुद से बात करने के लिए सबसे अच्छी जगह है। ये जगह आपको शहर के शोर से बहुत दूर ले जाएगी।

स्पा

यहां अहेली नाम का एक स्पा भी है। दिल्ली का ये स्पा आपकी सारी अपेक्षाओं को पूरी करता है और बाकी जगह के अनुभवों को भुला देता है। इस जगह को इस प्रकार से डिजाइन किया है। जहां जाते हुए आपको लगे कि आप किसी हीलिंग सेंटर में जा रहे हैं। ये जगह आपको बहुत रिलैक्स फील करवाएगी। एक्सपर्ट आपकी आवश्यअकताओं के अनुसार इस थेरेपी को लेने का जोर देते हैं। यहां आकर आप निराश नहीं होंगे यहां आप पूरा आराम महसूस करेंगे।

ब्रेकफास्ट

ये सबसे आखिर में होता है जब आपकी सुबह कियान में ब्रेकफास्ट के साथ शुरू होती है। खुली हवा के बीचों-बीच आपकी टेबल पर आपका नाश्ता तैयार होता है। हम बस इस जगह को पकड़ लेना चाहते थे, इसको भरना चाहते थे और इसके हरे-भरे नजारे के बीच ब्रेकफास्ट का आनंद लेना था। हालांकि इस खुली जगह पर हम पिछली शाम को टहल चुके थे। आप यहां ब्रेकफास्ट में कई प्रकार के जूस, फ्रूट्स, बेकरी व्यंजन और इंडियंस व्यंजन भी ले सकते हैं।

ये होटल मुझे सिर्फ इसलिए पसंद नहीं है क्योंकि ये खूबसूरत है, बल्कि यहां काम करने वाले लोग बेहद अच्छे, विनम्र और मिलनसार है। वे आपको इस जगह के बारे में बताते हैं और मदद भी करते हैं। मैं यहां बिताए समय को हमेशा अपने जेहन में संजो कर रखूंगी। ये इस बड़े और बिजी शहर में एकमात्र ऐसी जगह है। जहां आप इस शहर की भीड़ और शोर शराबा से बच सकते हैं। यहां तक कि इस प्रदूषित शहर से ब्रेक लेने के लिए ये अच्छी जगह है।

रोजेटी को इस बात पर गर्व है कि वो अपने वहां एयर क्वालिटी बहुत अच्छा रखते हैं और इसके लिए वे कई अवाॅर्ड्स भी जीत चुके हैं। इन अवाॅर्ड्स में इनोवेशन इन होटल डिजाइन 2017, कॉनडे नास्ट ट्रैवलर रीडर्स ट्रैवल अवार्ड्स, वल्र्ड लक्जरी होटल अवार्ड और बेस्ट न्यू होटल- लेजर इंडिया के बेस्ट अवार्ड्स शामिल हैं।

अगर आप दिल्ली के डेली लाइफ से उब गए हैं या दिल्ली की खतरनाक हवा आपको परेशान कर रही है और आप किसी अपने के साथ कुछ अलग अनुभव करना चाहते हैं। आपको इस जगह पर जरूर आना चाहिए। ये जगह किसी खास के साथ वक्त बिताने के लिए परफेक्ट है।

ऋषभ देव का लेख

- विज्ञापन -
Bharat247
Bharat247https://bharat247.com
bharat247 पर ब्रेकिंग न्यूज, जीवन शैली, ज्योतिष, बॉलीवुड, गपशप, राजनीति, आयुर्वेद और धर्म संबंधित लेख पढ़े!
संबंधित लेख
- विज्ञापन -

लोकप्रिय लेख

- विज्ञापन -