Saturday, December 2, 2023
bharat247 विज्ञापन
Homeस्वास्थ्यपुरुषों का स्वास्थ्यविटामिन B12 की कमी क्यों होती और इसको कैसे दूर करें

विटामिन B12 की कमी क्यों होती और इसको कैसे दूर करें

- विज्ञापन -


विटामिन B12 एक पानी में घुलनशील विटामिन है जो शरीर के कई महत्वपूर्ण कार्यों के लिए आवश्यक है। इनमें लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन, डीएनए संश्लेषण और मस्तिष्क के कार्य शामिल हैं।

विटामिन B12 को कोबालामिन भी कहा जाता है। यह एक लाल रंग का ठोस पदार्थ है जो पानी में घुलनशील होता है। विटामिन B12 मुख्य रूप से पशु उत्पादों में पाया जाता है, जैसे मांस, मछली, अंडे और डेयरी उत्पाद।

विटामिन B12 की कमी के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • आहार में कमी: 
    विटामिन B12 मुख्य रूप से पशु उत्पादों में पाया जाता है, जैसे मांस, मछली, अंडे और डेयरी उत्पाद। शाकाहारी और शाकाहारी लोगों में विटामिन B12 की कमी का खतरा अधिक होता है, क्योंकि वे इन खाद्य पदार्थों का कम सेवन करते हैं।
  • आहार अवशोषण में समस्या: 
    विटामिन B12 को अवशोषित करने के लिए शरीर को एक प्रोटीन की आवश्यकता होती है जिसे “इंटरनल फैक्टर” कहा जाता है। पेट में कुछ स्थितियां, जैसे पेप्टिक अल्सर या गैस्ट्रेक्टोमी, इंटरनल फैक्टर के उत्पादन को कम कर सकती हैं, जिससे विटामिन B12 की कमी हो सकती है।
  • अन्य चिकित्सा स्थितियां: 
    कुछ चिकित्सा स्थितियां, जैसे सीलिएक रोग, क्रोन रोग और कुछ प्रकार के कैंसर, विटामिन B12 के अवशोषण को भी बाधित कर सकती हैं।

विटामिन B12 की कमी के लक्षणों में शामिल हैं:

  • थकान
  • कमजोरी
  • सुन्नता या झुनझुनी
  • हाथों और पैरों में दर्द
  • याददाश्त की समस्याएं
  • मनोदशा में बदलाव
  • संज्ञानात्मक गिरावट

विटामिन B12 की कमी का निदान रक्त परीक्षण द्वारा किया जाता है। विटामिन B12 की कमी का इलाज आमतौर पर मौखिक या अंतःशिरा विटामिन B12 की खुराक के साथ किया जाता है।

विटामिन B12 की कमी को दूर करने के लिए निम्नलिखित उपाय किए जा सकते हैं:

  • पौधे आधारित आहार का पालन करने वाले लोगों को विटामिन B12 युक्त खाद्य पदार्थों, जैसे कि फोर्टिफाइड अनाज, सोया दूध और कुछ प्रकार के नट्स और बीजों को शामिल करना चाहिए।
  • विटामिन B12 की कमी के जोखिम वाले लोगों को नियमित रूप से रक्त परीक्षण करवाना चाहिए।

यदि आपको विटामिन B12 की कमी के लक्षण दिखाई देते हैं, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है। विटामिन B12 की कमी का जल्दी निदान और उपचार करने से गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं को रोकने में मदद मिल सकती है।

विटामिन B12 युक्त खाद्य पदार्थ

  • पशु उत्पाद: मांस, मछली, अंडे और डेयरी उत्पाद विटामिन B12 के सबसे अच्छे स्रोत हैं।
  • फोर्टिफाइड खाद्य पदार्थ: कुछ अनाज, दूध और सोया उत्पाद विटामिन B12 से फोर्टिफाइड होते हैं।
  • नट्स और बीज: कुछ प्रकार के नट्स और बीज, जैसे कि बादाम, चिया बीज और कद्दू के बीज, विटामिन B12 के अच्छे स्रोत हैं।

विटामिन B12 की कमी के जोखिम वाले लोग

  • शाकाहारी और शाकाहारी लोग: पौधे आधारित आहार में विटामिन B12 का प्राकृतिक रूप से कम स्तर होता है।
  • बुजुर्ग लोग: उम्र के साथ, शरीर विटामिन B12 को अवशोषित करने में कम कुशल हो जाता है।
  • कुछ चिकित्सा स्थितियां: कुछ चिकित्सा स्थितियां, जैसे कि पेप्टिक अल्सर, गैस्ट्रेक्टोमी, सीलिएक रोग और क्रोन रोग, विटामिन B12 के अवशोषण को बाधित कर सकती हैं।

विटामिन B12 की कमी के लक्षण

  • थकान
  • कमजोरी
  • सुन्नता या झुनझुनी
  • हाथों और पैरों में दर्द
  • याददाश्त की समस्याएं
  • मनोदशा में बदलाव
  • संज्ञानात्मक गिरावट

यदि आपको विटामिन B12 की कमी के लक्षण दिखाई देते हैं, तो अपने डॉक्टर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है। विटामिन B12 की कमी का जल्दी निदान और उपचार करने से गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं को रोकने में मदद मिल सकती है।

विटामिन B12 की कमी का इलाज

विटामिन B12 की कमी का इलाज आमतौर पर मौखिक या अंतःशिरा विटामिन B12 की खुराक के साथ किया जाता है। मौखिक विटामिन B12 की खुराक आमतौर पर प्रतिदिन या सप्ताह में एक बार ली जाती है। अंतःशिरा विटामिन B12 की खुराक आमतौर पर केवल गंभीर मामलों में आवश्यक होती है।

विटामिन B12 की कमी के लिए कोई घरेलू उपचार नहीं है। हालांकि, कुछ प्राकृतिक उपचार विटामिन B12 के अवशोषण में सुधार कर सकते हैं। इनमें शामिल हैं:

  • फोलेट: फोलेट विटामिन B12 के साथ मिलकर काम करता है। फोलेट से भरपूर खाद्य पदार्थों में पालक, ब्रोकोली और सेम शामिल हैं।
  • लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया: लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया विटामिन B12 के उत्पादन में मदद कर सकते हैं। लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया से भरपूर खाद्य पदार्थों में दही, किमची और सॉसेज शामिल हैं।
  • मैग्नीशियम: मैग्नीशियम विटामिन B12 के अवशोषण में सुधार कर सकता है। मैग्नीशियम से भरपूर खाद्य पदार्थों में अंडे, फलियां और नट्स शामिल हैं।
- विज्ञापन -
Bharat247
Bharat247https://bharat247.com
bharat247 पर ब्रेकिंग न्यूज, जीवन शैली, ज्योतिष, बॉलीवुड, गपशप, राजनीति, आयुर्वेद और धर्म संबंधित लेख पढ़े!
संबंधित लेख
- विज्ञापन -

लोकप्रिय लेख

- विज्ञापन -