Saturday, May 25, 2024
bharat247 विज्ञापन
Homeपूजा पाठपहला शारदीय नवरात्रि 2023 कब है

पहला शारदीय नवरात्रि 2023 कब है

- विज्ञापन -

हिंदू पंचांग के अनुसार, शारदीय नवरात्रि आश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शुरू होती है और साल 2023 में इस तिथि का शुभारंभ 15 अक्टूबर 2023 को होगा। नवरात्रि का पहला दिन घटस्थापना का दिन होता है, जब घर में एक कलश स्थापित किया जाता है, जिसमें देवी दुर्गा का वास माना जाता है। नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है।

नवरात्रि क्यों मनाई जाती है? – शारदीय नवरात्रि 2023 (Shardiya Navratri 2023)

नवरात्रि को शक्ति की देवी, मां दुर्गा की पूजा के लिए मनाया जाता है। नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की जाती है। इन नौ रूपों में देवी दुर्गा के विभिन्न अवतारों का प्रतिनिधित्व किया जाता है। नवरात्रि को एक शुभ अवसर माना जाता है, जब लोग देवी दुर्गा की कृपा पाने के लिए व्रत, पूजा और अनुष्ठान करते हैं।

नवरात्रि की पूजा कैसे करें? – शारदीय नवरात्रि 2023 (Shardiya Navratri 2023)

नवरात्रि की पूजा करने के लिए, सबसे पहले अपने घर या मंदिर को साफ करें। फिर, एक कलश स्थापित करें, जिसमें गंगा जल, चावल, हल्दी, कुमकुम, और कुछ अन्य सामग्री डाली जाती है। कलश के ऊपर एक आम का पत्ता और एक नारियल रखें। फिर, देवी दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें और उनकी पूजा करें। पूजा में, देवी दुर्गा को फूल, धूप, दीप, और भोग अर्पित करें। नवरात्रि के नौ दिनों में, देवी दुर्गा की पूजा नियमित रूप से करें।

नवरात्रि की पूजा की विधि – शारदीय नवरात्रि 2023 (Shardiya Navratri 2023)

नवरात्रि की पूजा की विधि निम्नलिखित है:

  1. घटस्थापना: नवरात्रि की पूजा का पहला चरण है घटस्थापना। घटस्थापना के लिए, एक मिट्टी का घड़ा लें और उसमें गंगा जल, चावल, हल्दी, कुमकुम, और कुछ अन्य सामग्री डालें। घड़े के ऊपर एक आम का पत्ता और एक नारियल रखें। फिर, देवी दुर्गा की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें और उनकी पूजा करें।
  2. गणेश पूजन: नवरात्रि की पूजा में सबसे पहले गणेश पूजन किया जाता है। गणेश जी को विघ्नहर्ता माना जाता है, इसलिए उनकी पूजा करने से पूजा में कोई बाधा नहीं आती है।
  3. मां दुर्गा की पूजा: नवरात्रि की पूजा का मुख्य उद्देश्य मां दुर्गा की पूजा करना है। मां दुर्गा की पूजा में, उन्हें फूल, धूप, दीप, और भोग अर्पित करें।
  4. अन्य देवी-देवताओं की पूजा: नवरात्रि में, देवी दुर्गा के अलावा अन्य देवी-देवताओं की भी पूजा की जाती है। जैसे कि, भगवान शिव, भगवान विष्णु, भगवान गणेश, आदि।
  5. भजन और आरती: नवरात्रि में, देवी दुर्गा की भजन और आरती करना भी बहुत महत्वपूर्ण है।

नवरात्रि की पूजा के नियम – शारदीय नवरात्रि 2023 (Shardiya Navratri 2023)

नवरात्रि की पूजा करते समय निम्नलिखित नियमों का पालन करें:

  • नवरात्रि के नौ दिनों में, मां दुर्गा की पूजा नियमित रूप से करें।
  • नवरात्रि के दौरान मांस, मदिरा, और अन्य तामसिक भोजन का सेवन न करें।
  • नवरात्रि के दौरान सच्चे मन से देवी दुर्गा की पूजा करें।

नवरात्रि की पूजा के लाभ – शारदीय नवरात्रि 2023 (Shardiya Navratri 2023)

नवरात्रि की पूजा करने से निम्नलिखित लाभ मिलते हैं:

  • देवी दुर्गा की कृपा प्राप्त होती है।
  • सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।
  • जीवन में सुख, समृद्धि, और शांति आती है।

नवरात्रि की शुभकामनाएं!

- विज्ञापन -
Bharat247
Bharat247https://bharat247.com
bharat247 पर ब्रेकिंग न्यूज, जीवन शैली, ज्योतिष, बॉलीवुड, गपशप, राजनीति, आयुर्वेद और धर्म संबंधित लेख पढ़े!
संबंधित लेख
- विज्ञापन -

लोकप्रिय लेख

- विज्ञापन -