Friday, February 23, 2024
bharat247 विज्ञापन
Homeयौन स्वास्थ्यशीघ्रपतन का इलाज आयुर्वेद में है

शीघ्रपतन का इलाज आयुर्वेद में है

- विज्ञापन -

सेक्स के दौरान चरम सुख पर पहुंचने से पहले ही पुरुष का स्पर्म निकल जाना ही शीघ्रपतन है । इसकी सबसे बड़ी वजह मानसिक कमजोरी है। जो व्यक्ति सेक्स को लेकर जितना कम जानता है, वह सेक्स के दौरान शीघ्रपतन का शिकार उतनी जल्दी होता है । भारत के लगभग 30 से 40 प्रतिशत पुरुषों को यह समस्या है।

शीघ्रपतन (Shighrapatan) पुरुषों को होने वाली एक प्रकार की यौन समस्या है। इस समस्या में सेक्स के दौरान चरम पर पहुंचने या आर्गेज्म से पहले ही वीर्य (Sperm) निकल जाता है। इसे ही शीघ्रपतन कहते हैं। शीघ्रपतन का सेक्स लाइफ पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

शीघ्रपतन के लक्षण (Premature Ejaculation Symptoms)

शीघ्रपतन के लक्षण ये हैंः-

  • शीघ्रपतन उत्तेजना के कुछ सेकेण्ड या मिनट के भीतर हो जाता है।
  • इण्टरकोर्स (Intercaurse) आरम्भ होने के 60 सेकेण्ड के अन्दर पुरुष का वीर्यपतन (Spermout) हो जाए, तो शीघ्रपतन की समस्या समझना चाहिए।
  • यौन उत्तेजना कम होना।
  • संभोग क्रिया शुरू होते ही, या होने से पहले वीर्यपतन हो जाना।

शीघ्रपतन दोष के कारण :-

– ज्यादा मात्रा में शराब लेना।
– नशीले पदार्थों को लेना जैसे अफीम, चरस आदि।
– धूम्रपान
– एंटीबायोटिक दवाओं को अधिक मात्रा में लेना।
– जंकफूड जैसे पिज्जा, बर्गर, पेस्ट्री, कोल्डड्रिंक आदि ज्यादा खाना।

शीघ्रपतन का इलाज आयुर्वेद में है और इसके लिए किसी गुप्त रोग चिकित्सक से परामर्श लेकर इसका इलाज कराया जा सकता है।

आज ही भारत के मशहूर गुप्त रोग विशेषज्ञ डॉ. विनोद सबलोक से मिले।

अधिक जानकारी और अपॉइंटमेंट के लिए कॉल करें सबलोक क्लिनिक : 9891300008
अपॉइंटमेंट बुक करें – http://bit.ly/book-appmnt

- विज्ञापन -
Bharat247
Bharat247https://bharat247.com
bharat247 पर ब्रेकिंग न्यूज, जीवन शैली, ज्योतिष, बॉलीवुड, गपशप, राजनीति, आयुर्वेद और धर्म संबंधित लेख पढ़े!
संबंधित लेख
- विज्ञापन -

लोकप्रिय लेख

- विज्ञापन -